सफेद प्रदर क्या है? महिलाएं कैसे पा सकती हैं इससे छुटकारा?

सफेद प्रदर क्या है?

सफेद प्रदर क्या है? महिलाएं कैसे पा सकती हैं इससे छुटकारा? आजमाइए कुछ साधारण से घरेलू नुस्खे …

सफेद या श्वेत प्रदर महिलाओं में होने वाली एक सामान्य बीमारी है।

इसे ल्युकोरिया भी कहा जाता है।

इस बीमारी में स्त्री की योनि से गाढ़ा, सफेद व चिपचिपा दुरगंधयुक्त यानी पानी निकलता है।

जिसके कारण स्त्रियां कमजोर और क्षीण हो जाती हैं।

इससे योनि में खुजली, दर्द, जलन व अन्य परेशानियां हो जाती हैं।

अगर महिलाएं यहां दिए गए कुछ साधारण से घरेलू नुस्खे अपनाएं तो इस बीमारी से आसानी से छुटकारा पा सकती हैं।

१) साफ सफाई पे ध्यान देना

सफेद प्रदर या ल्युकोरिया का सबसे अहं कारण ठीक से साफ-सफ़ाई न रख पाना भी माना जाता है।

योनि की पूरी सफाई एवं उसे सूखा रखना अनिवार्य होता है।

अगर पूरी सफाई नहीं रखी जाती तो संक्रमण का खतरा बना रहता है।

२) आयरन का भरपूर मात्रा में सेवन

योनि से सफेद पानी का गिरना महिला की शारीरिक कमजोरी के कारण भी हो सकता है।

अतः ऐसी चीजों का सेवन करना चाहिए जिनमें आयरन की भरपूर मात्रा मौजूद हो ताकि शरीर में हिमोग्लोबिन का उचित स्तर बना रहे।

३) मासिक धर्म के समय सावधानी

इस बीमारी से बचे रहने के लिए मासिक धर्म के समय कुछ खास सावधानियां रखना अनिवार्य है, जैसे कि हर 4 से 6 घंटे के बाद पैड बदला चाहिए तथा हल्का गरम पानी लेकर अच्छे से सफाई करनी चाहिए

ताकि कीटाणुओं का खतरा न रहे। इसके अलावा सूती अंतर्वस्त्रों का इस्तेमाल करना चाहिए और उन्हें दिन में दो बार बदलना चाहिए।

४) अंजीर का सेवन

इस रोग से निजात पाने के लिए अंजीर का प्रयोग भी बढ़िया असर दिखाता है।

रात्रि के समय अंजीर को पानी में भिगो कर रख दें और सुबह के समय उसे गुनगुने पानी में पीसकर उसका खाली पेट सेवन करें।

५) आंवले का उपयोग

आंवला भी इस रोग को भगाने में बहुत मदद करता है।

आंवलों को सूखाकर उनका बारीक चूर्ण तैयार करके रख लें और इस चूर्ण का पानी के साथ नियमित रूप से सेवन करें, कुछ ही दिनों में रोग खत्म हो जाएगा।

६) पके केले का सेवन

महिलाएं चाहें तो सफेद पानी से छुटकारा पाने के लिए पके केले का सेवन भी कर सकती हैं।

पके केले चीनी या घी के साथ खाने से ज्यादा फायदा होगा। केले का सेवन दिन में दो बार कर सकते हैं।

७) अमरूद की पत्तियों का उपयोग

अमरूद की 5-7 पत्तियां लें और उन्हें आधा घंटा पानी में उबालें और फिर ठंडा होने दें और उसके बाद छानकर इससे दिन में दो बार अच्छी तरह से योनि को धोएं।

८) मेथी के दाने तथा सूखा धनिया

मेथी दाना व सूखा धनिया भी इस बीमारी में काफी फायदेमंद होता है।

सूखा धनिया शरीर से खतरनाक तत्वों को बाहर निकालता है।

धनिए के लगभग 10 ग्राम बीज 100 मिली पानी में रात भर भिगो के रखें तथा सुबह पानी को छानकर खाली पेट पिएं।

इस प्रयोग से अच्छा लाभ मिलेगा।

९) दही का इस्तेमाल

भिंडी और आम को अपने दैनिक आहार में शामिल करें, क्योंकि इनका सेवन श्वेत या सफेद प्रदर में काफी राहत देने वाला माना जाता है।

आम ल्युकोरिया के साथ-साथ खुजली में भी फायदा देगा।

इसके अलावा अपने भोजन में दही को भी शामिल कर सकते हैं , क्योंकि दही रोगाणुओं से लड़ने की शक्ति देती है।

१०) शतावरी

शतावरी को आयुर्वेद में बहुत अधिक महत्व दिया जाता है और सफेद प्रदर के उपचार की खास औषधि माना जाता है।

शतावरी जड़ का चूर्ण बनाकर प्रतिदिन एक चम्मच चूर्ण का शहद के साथ सेवन करने से रोग से छुटकारा मिल सकता है।

शतावरी महिला प्रजनन प्रणाली की बहुत-सी बीमारियों के उपचार के लिए उपयोगी है।

अपने दोस्तों में लेख शेअर करें मनाचेTalks हिन्दी आपके लिए ऐसी कई महत्त्वपूर्ण जानकारियाँ लेके आ रहा है। हमसे जुड़ने के लिए हमारा फेसबुक पेज मनाचेTalks हिन्दी को लाइक करिए और हमसे व्हाट्स ऐप पे जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *