ब्लॉग, वेबसाइट बनाने के 3 सबसे बड़े प्लेटफॉर्म्स | BEST BLOGGING PLATFORMS IN HINDI भाग:६

ब्लॉग वेबसाइट बनाने के 3 सबसे बड़े प्लेटफॉर्म्स

ब्लॉगिंग क्या है और इससे पैसे कैसे कमाएँ? WHAT IS BLOGGING AND ALL ITS BASICS IN HINDI भाग:१

ब्लॉगस्पॉट की मदद से 2 मिनट में ब्लॉग कैसे बनाएँ? (Step-by-Step) भाग:२

ब्लॉग कैसे लिखें? भाग:३

SEO क्या है? पूरी जानकारी | SEO in Hindi – भाग:४

अपने ब्लॉग के लिए अच्छे आर्टिकल कैसे लिखें? | WRITE ARTICLES FOR BLOG IN HINDI भाग: ५

इंटरनेट पर कई तरह की वेबसाइटें हो सकती हैं। ऑनलाइन शॉपिंग साइट, बैंकिंग साइट्स, ब्लॉग साइट्स, डाउनलोडींग साइट्स, ऑनलाइन टूल्स और भी बहुत कुछ।

अलग-अलग तरह की वेबसाइटों को बनाने के लिए अलग-अलग प्लेटफॉर्म्स की जरूरत पड़ती है।

जैसे- अगर आपको कोई सामान बेचने के लिए e-commerce site बनानी है तो उसके लिए आप shopify का यूज कर सकते हैं वहीं अगर आपको ब्लॉग बनाना है तो उसके लिए ब्लॉगर और वॉर्डप्रेस जैसे बहुत सारे प्लेटफॉर्म्स अवैलबल हैं।

ब्लॉग बनाने के भी कई सारे अलग-अलग प्लेटफॉर्म्स हैं। आपको किस तरह का ब्लॉग बनाना है; आपका बजट क्या है और आपकी जरूरत क्या-क्या है? इसके आधार पर आप अपने ब्लॉग के लिए बेहतर ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म का चुनाव कर सकते हैं।

ब्लॉग बनाने के लिए ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म का चुनाव करते वक्त हमें बहुत ध्यान देना पड़ता है।

इसलिए यह जरूरी है कि हम सभी बड़े प्लेटफॉर्म्स को compare करें और फिर फैसला करें कि कौन-सा प्लेटफ़ॉर्म हमारे लिए सबसे ज्यादा suitable है।

तो चलिए आज के इस आर्टिकल में हम जानते हैं कि कैसे आप अपने लिए ब्लॉगिंग करने के लिए बेस्ट प्लेटफ़ॉर्म का चुनाव कर सकते हैं।

ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म्स के बारे में सम्पूर्ण जानकारी | EVERYTHING ABOUT BLOGGING PLATFORMS IN HINDI

1) ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म क्या है? (WHAT IS BLOGGING PLATFORM):

जैसे कि नाम से ही साफ पता चलता है कि ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म ऐसी वेबसाइटें होती हैं जिनकी मदद से हम ब्लॉग बना सकते हैं।

नोट- ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म्स को Content Management System (CMS) भी कहा जाता है क्योंकि ये वेबसाइट के कंटेन्ट को मैनेज करने का काम करते हैं।

ब्लॉग बनाने के लिए इंटरनेट पर बहुत सारी वेबसाइटें मौजूद हैं जिनमें से Blogger (जिसे blogspot के नाम से भी जाना जाता है), WordPress.com और WordPress.org सबसे ज्यादा पॉपुलर हैं।

और हमें इन तीनों में से किसी एक प्लेटफ़ॉर्म की मदद से ही ब्लॉग बनाने की कोशिश करनी चाहिए।

2) अपने लिए बेस्ट ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म चुनने के लिए इन बातों का रखें ख्याल (TIPS TO CHOOSE BEST BLOGGING PLATFORM):

कोई भी प्लेटफ़ॉर्म खराब नहीं होता। बस हो सकता है वह आपकी जरूरतों और बजट के हिसाब से suitable न हो।

इसलिए अपने ब्लॉग को मैनेज करने के लिए बेस्ट प्लेटफ़ॉर्म का चुनाव करने के लिए यह जरूरी है कि हम कुछ बातों का ख्याल रखें। पेश हैं ऐसी ही कुछ बातें..

जरूरत (Requirement)- आप अपने ब्लॉग में क्या-क्या चीजें शामिल करने वाले हैं इसके आधार पर भी आपको अपने ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म का चुनाव करना चाहिए।

बजट (Budget)- आप अपने ब्लॉग पर कितना खर्च करना चाहते हैं इससे भी आपके ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म सिलेक्शन के निर्णय पर फर्क पड़ता है।

आप हर महीने अपने ब्लॉग को मैन्टैन करने में कितना खर्च कर सकते हैं, यह सवाल भी खुद से जरूर पूछें।

और शुरुआत के पहले 6 महीनों में किसी भी सूरत में अपने ब्लॉग से इनकम की उम्मीद न रखें।

3) बेस्ट ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म्स/साइट्स ( Best Blogging CMS Sites):

इंटरनेट पर बहुत सारी ब्लॉगिंग साइट्स मौजूद हैं और उनमें से आपके लिय कौन-सी सबसे बेस्ट है इसका चुनाव करना आसान काम नहीं है।

इसलिए सबसे पहले सभी मेजर ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म को कअम्पेर करें और फिर यह विचार करें कि आपके लिए इनमें से सबसे बेहतर कौन-सा रहेगा। तो चलिए जानते हैं ब्लॉगिंग करने के कुछ बेस्ट प्लेटफॉर्म के बारे में…

1. ब्लॉगर या ब्लॉगस्पॉट (BLOGGER/BLOGSPOT):

ब्लॉगर (जिसको पहले Blogspot के नाम से जाना जाता था) गूगल की तरफ से लोगों को फ्री में ब्लॉगिंग करने के लिए दिया गया प्लेटफॉर्म है इसकी मदद से कोई भी व्यक्ति अपने जीमेल आइडी की मदद से आसानी से अपने लिए एक फ्री ब्लॉग तैयार कर सकता है।

ब्लॉगर प्लेटफ़ॉर्म का पुराना नाम Blogspot था। इसे गूगल ने खुद डिवेलप नहीं किया, बल्कि एक दूसरी कंपनी से खरीदा था।

ब्लॉगर उन लोगों के लिए एक अच्छा प्लेटफ़ॉर्म है जिन्हें अपने ब्लॉग को सिम्पल रखना है और उसपे बहुत सारी अलग-अलग तरह की चीजें नहीं करनी है।

जैसे- उसपे कुछ सेल नहीं करना है; उसपे कोई सर्विस नहीं देनी है।

ये तो था ब्लॉगर का ओवर्व्यू; तो चलिए ब्लॉगर के बारे में थोड़ा-गहराई में जानते हैं-

बजट- ब्लॉगर प्लेटफ़ॉर्म पर आप चाहें तो फ्री में ब्लॉग बना सकते हैं लेकिन फ्री ब्लॉग में आपको कुछ इस तरह का नाम मिलता है जैसे, aapkiwebsite.blogspot.com ; जो कि टाइप करने में बहुत लंबा और नॉन-प्रोफेशनल लगता है।

लेकिन अगर आप अपने ब्लॉग पर सालाना 500-1000 रुपए खर्च कर सकते हैं तो आप अपने blog के लिए डोमेन नेम खरीद सकते हैं जो आपके ब्लॉग को एक पेशेवर लुक देगा। जैसे- aapkiwebsite.com

इसके अलावा ब्लॉगर में होस्टिंग सर्वर बिल्कुल फ्री है यानि आपको अपने ब्लॉग का कंटेन्ट स्टोर करने का कोई भाड़ा नहीं चुकाना पड़ता है, यह गूगल की तरफ से फ्री होता है।

ब्लॉगर की खूबियाँ (Advantages):

  • ब्लॉगर बहुत ही सिम्पल प्लेटफ़ॉर्म है; इसे हैन्डल करने के लिए आपको बहुत ज्यादा टेक्निकल नालिज की आवश्यकता नहीं होती है।
  • ब्लॉगर ब्लॉग में आप गूगल अड़सेंस के ads लगाकर पैसे कमा सकते हैं।
  • ब्लॉगर ब्लॉग पर बहुत ज्यादा खर्च करने की जरूरत नहीं होती।
  • ब्लॉगर ब्लॉग को गूगल जल्दी से इंडेक्स भी कर लेता है।
  • ब्लॉगर गूगल का प्लेटफ़ॉर्म है जिस वजह से इसपे आसानी से भरोसा किया सकता है।
  • आप चाहें तो शुरुआत में ब्लॉग बना सकते हैं और बाद में जब आपका ब्लॉग पॉपुलर हो जाए तो आप उसे वर्डप्रेस.ऑर्ग पर शिफ्ट कर सकते हैं।

ब्लॉगर के नुकसान (Disadvantages)

  • ब्लॉगर में limited funtions हैं जिसके कारण आप ब्लॉगर ब्लॉग में बहुत सारी चीजें नहीं कर सकते हैं।
  • ब्लॉगर में अगर आप कुछ ऐसी चीजें पोस्ट करते हैं जो गूगल की policies का उलँघन करती हैं तो आपका ब्लॉग, आपको बिना सूचित किये हटाया जा सकता है।
  • ब्लॉगर ब्लॉग में बहुत ज्यादा टूल्स उपलब्ध नहीं होते हैं जिसके कारण हमें ज्यादातर काम manually करने पड़ते हैं।

ब्लॉगर किसके लिए है

ब्लॉगर उन लोगों के लिए ज्यादा suitable platform है जो एक सिम्पल ब्लॉग बनाना चाहते हैं, कम टेक्निकल नालिज रखते हैं और कम बजट में अपना ज्ञान लोगों तक पहुंचाना चाहते हैं।

2. वर्डप्रेस.कॉम (WORDPRESS.COM):

वर्डप्रेस.कॉम ब्लॉगस्पॉट के ही जैसा एक ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म है जिसपे आप अपने लिए एक फ्री ब्लॉग बना सकते हैं।

इस प्लेटफ़ॉर्म पर जब आप free ब्लॉग बनाते हैं तो आपके ब्लॉग के साथ wordpress.com लिखा हुआ आता है।

जैसे- aapkiwebsite.wordpress.com और आप जब चाहें तब custom domain name खरीदकर अपने ब्लॉग को aapkiwebsite.com बना सकते हैं।

वॉर्डप्रेस.कॉम के फायदे (advantages):

  • वॉर्डप्रेस.कॉम पे आप फ्री में ब्लॉग बना सकते हैं।
  • यह काफी पॉपुलर प्लेटफ़ॉर्म है।
  • इसपे ब्लॉगर्स की बहुत बड़ी कम्यूनिटी है जहाँ पर आप उनसे interact कर सकते हैं।
  • इसपे आप अपने ब्लॉग पर बहुत अलग-अलग तरह के designs लगा सकते हैं।

वॉर्डप्रेस.कॉम के नुकसान (Disadvantages):

  • इसपे ब्लॉग बनाने पर आपको बहुत सारी limitations का सामना करना पड़ता है।
  • आप अपने ब्लॉग पर adsense के ads नहीं लगा सकते। इसके विपरीत आपको ब्लॉग पर पहले से ही लगे wordpress.com के ads को हटाने के भी पैसे देने पड़ते हैं।

यह किसके लिए है?- वॉर्डप्रेस.कॉम उन लेखकों के लिए अच्छा प्लेटफ़ॉर्म है जो एक कम्यूनिटी चाहते हैं और ब्लॉग से पैसा कमाना उनका मकसद नहीं है।

NOTE- वॉर्डप्रेस.कॉम और ब्लॉगर.कॉम लगभग एक ही तरह की सुविधाएँ देते हैं लेकिन वॉर्डप्रेस.कॉम में ब्लॉगर की तुलना में ज्यादा सीमाएं हैं इसलिए बेहतर रहेगा कि आप blogger.com पर अपना ब्लॉग तैयार करें।

3) वर्डप्रेस.ऑर्ग (WORDPRESS.ORG):

वॉर्डप्रेस.ओआरजी एक Self-hosted Content Management System है जिसकी मदद से आप एक शानदार (dynamic) दिखने वाला ताकतवर ब्लॉग बना सकते हैं।

सेल्फ होस्टेड का मतलब है कि आपको इस प्लेटफ़ॉर्म में होस्टिंग अपने आप खरीदनी होगी। ब्लॉगर और वॉर्डप्रेस.कॉम की तरह इसमें आपको फ्री सर्वर होस्टिंग की सुविधा नहीं मिलेगी। और CMS का मतलब है Content Management System यानि यह आपके कंटेन्ट को मैनेज करेगा।

वॉर्डप्रेस.ऑर्ग पर इंटरनेट की दुनिया की ३३% वेबसाइटें बनी हैं और आप इस पर लगभग हर तरह की वेबसाइट बना सकते हो।

आप चाहें तो ब्लॉग बना लीजिए, आप चाहें तो कोई सामान बेचने के लिए e-commerce store बना लीजिए या फिर आप कोई tool भी तैयार कर सकते हैं।

वॉर्डप्रेस.ऑर्ग पर वेबसाइट बनाने से पहले आपको कोडिंग का थोड़ा-बहुत ज्ञान हो तो अच्छा रहेगा क्योंकि इसमें अक्सर टेक्निकल चीजों की जरूरत पड़ती रहती है।

NOTE- कई बार वर्डप्रेस.ऑर्ग को सिर्फ “वॉर्डप्रेस” भी कहा जाता है तो जब भी हम वर्डप्रेस कहें तो इसका मतलब .org वाले से ही होगा . com वाले से नहीं!

वॉर्डप्रेस.ऑर्ग के फायदे (Advantages):

  • वर्डप्रेस की मदद से आप हर प्रकार की वेबसाइटें बना सकते हैं और इससे वेबसाइटें बेहद डाइनैमिक बनती हैं।
  • वर्डप्रेस पर हजारों तरह की themes/layout उपलब्ध हैं जिनकी मदद से आप अपनी वेबसाइट को अपनी इकक्षा के अनुसार लुक दे सकते हैं।
  • वर्डप्रेस पर हजारों की संख्या में tools उपलब्ध हैं जिन्हें plugins कहा जाता है। ये प्लगइन्स की मदद से आपके कई काम आसान हो जाते हैं। मिसाल के तौर पर YoastSEO प्लगइन की मदद से वर्डप्रेस ब्लॉग का SEO करना बेहद आसान हो जाता है क्योंकि यह आपको अपने आप बताता है कि आपको क्या-क्या करना चाहिए।
  • वर्डप्रेस पर आप अपने ब्लॉग पर कुछ-भी पोस्ट कर सकते हैं और क्योंकि यह आपके खुद के सर्वर में कंटेन्ट को स्टोर करता है इसलिए आपके ब्लॉग को आपकी पर्मिशन के बिना कोई भी डिलीट नहीं कर सकता है।
  • यह ब्लॉग (मनाचेTalksहिन्दी), जिसपे अभी आप यह पोस्ट पढ़ रहे हैं, भी वर्डप्रेस की मदद से ही बना है।

वर्डप्रेस के नुकसान (Drawbacks):

  • वर्डप्रेस ब्लॉग को मैनेज करने में वार्षिक तौर पर कम-से-कम Rs. 5000 से अधिक का खर्च आता है और अगर आपका ब्लॉग कुछ खास पॉपुलर नहीं है तो आपको ROI मिलने में परेशानी हो सकती है। आपका ब्लॉग बड़ा होके उसपर विजिटर्स जब बढ़ते है तब ये खर्चा और भी बढ़ सकता है।
  • वर्डप्रेस नॉन-टेक्निकल लोगों के लिए सही नहीं है क्योंकि इसमें बहुत सारी टेक्निकल चीजें होती हैं जिन्हें मैनेज करने के लिए किसी टेक्निकल व्यक्ति का होना काफी जरूरी है।
  • वर्डप्रेस पर अगर आप होस्टिंग को renew नहीं करते हैं या फिर आप चीप होस्टिंग लेते हैं तो आपका ब्लॉग down हो जाता है जिससे रीडर्स को परेशानी होती है जबकि ब्लॉगर के साथ ऐसा इशू बहोत कम होता है।

यह किसके लिए है- उन टैकी लोगों के लिए जो डाइनैमिक वेबसाइट बनाना चाहते हैं और उनके पास अच्छा बजट मौजूद है।

ये तो थे ब्लॉग बनाने के ३ सबसे पॉपुलर प्लेटफॉर्म्स… कुछ और भी प्लेटफॉर्म्स हैं जो कम पॉपुलर हैं हालांकि काफी पावरफुल भी हैं। पेश हैं ऐसे ही कुछ प्लेटफॉर्म्स की लिस्ट-

  • QUORA BLOGS
  • MEDIUM
  • GHOST
  • TUMBLR
  • ZOOMLA
  • WEEBLY
  • SQUARESPACE

CONCLUSION:

आपके ब्लॉग की सफलता काफी हद तक इस बात पर भी निर्भर करती है कि आपने ब्लॉग बनाने के लिए किस प्लेटफ़ॉर्म का चुनाव किया है।

इसलिए अपने बजट, जरूरत और टेक्निकल नालिज को ध्यान में रखकर सही ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म का चुनाव करें।

उम्मीद है कि आपको “ब्लॉगिंग प्लेटफ़ॉर्म” से जुड़ी हमारी यह पोस्ट जरूर पसंद आई होगी। अगर आपका कोई सवाल है तो हमें कमेन्ट बॉक्स के माध्यम से जरूर पूछें।

मनाचेTalks हिंदी

अपने दोस्तों में लेख शेअर करें मनाचेTalks हिन्दी आपके लिए ऐसी कई महत्त्वपूर्ण जानकारियाँ लेके आ रहा है। हमसे जुड़ने के लिए हमारा फेसबुक पेज मनाचेTalks हिन्दी को लाइक करिए और हमसे व्हाट्स ऐप पे जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *