घर की सजावट करते वक़्त रखना चाहिए किन बातों का ख्याल

घर की सजावट

दुनिया में इंसान के लिए अगर कोई सबसे प्यारी जगह होती है तो वह उसका घर यानी उसके सपनों का वो महल जिस पर वह नाज करता है।

घर हम सबके लिए अपनी वो छोटी-सी खूबसूरत दुनिया होती है जहां हम अपने परिवार जनों के साथ रहते हैं और एक-दूसरे पर अपना प्रेम या स्नेह लुटाते हैं।

एक-दूसरे की खुशी में शामिल होते हैं तथा एक-दूसरे के दुख-तकलीफ को बांटते हैं।

हम सबका एक यही सपना होता है कि हमारा घर सुंदर या सजा-धजा हो।

उसका कोना-कोना सौंदर्य से भरपूर हो और उसमें रहते हुए हमें आनंद की अनुभूति होती हो तथा उसमें हमारा मन गहराई से रमा हो।

हमारे सगे-संबंधियों और यार-दोस्तों को उसकी सजावट बहुत ही खूबसूरत लगती हो तथा वे उसकी सजावट की प्रशंसा करते न थकते हों। इसीलिए हम सबका ध्यान अपने घर की सजावट पर सबसे ज्यादा होता है।

और हम सदैव उसे तरह-तरह से सजाने की तरकीबें सोचते या बनाते रहते हैं।

अगर हम अपने घर को वास्तव में ही खूबसूरत देखने के इच्छुक हैं तो हमें उसकी सजावट करते समय कुछ खास बातों का ख्याल रखना चाहिए।

आइए जानें कि ऐसी बातें कौन -कौन-सी हैं।

१) घर के लिए फर्नीचर की खरीददारी

फर्नीचर प्रत्येक घर की आवश्यकता या साज-सजावट का अभिन्न अंग होता है।

इसीलिए कभी भी इसकी खरीददारी दूसरे के घर के देखा-देखी नहीं करनी चाहिए।

फर्नीचर हमेशा अपने घर के स्पेस और उसकी जरूरत के अनुरूप ही खरीदना चाहिए।

जरूरत से ज्यादा बड़ा और साथ ही जरूरत से अधिक संख्या में खरीद कर रखे गए फर्नीचर से घर तो भरा-भरा लगता है मगर उसकी सजावट दम तोड़ जाती है।

इस प्रकार स्पेस की कमी भी घर के सौंदर्य को खराब कर देती है।

२) पर्दे और सोफे-बैड आदि के कुशन

घर में पर्दे लगाते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें कि पर्दे वाॅल यानी दीवारों के कलर से मेल खाते हों क्योंकि एक-दूसरे के भिन्न कलर सारी शोभा को खराब कर देते हैं।

इसके अलावा खिड़कियों पर ज्यादा गहरे रंग के पर्दे लगाने से बचें क्योंकि इस तरह आप बाहर के नज़ारे देखने से वंचित रह जाएंगे।

साथ ही इस बात का भी पूरा ख्याल रखें कि आपके सोफे, दीवान या बैड आदि पर अतिरिक्त या आवश्यकता से ज्यादा कुशन भी सजावट को खराब ही करते हैं।

कुछ लोग खास तौर पर महिलाएं  टी वी सीरियल,सिनेमा आदि में सोफे या बैड पर तरह-तरह के ढेर सारे कुशन देखती हैं और उन्हें देखकर वैसे ही कुशन खरीद लाती हैं। अतः ऐसा करने से बचें क्योंकि इस प्रकार घर की सजावट बढ़ने के बजाय घटती ही है।

३) फालतू की चीजों से घर भरना

कुछ महिलाएं या पुरुष बाजार में जो अच्छा लगता है उसे ही खरीद लेते हैं तथा घर में लाकर रख देते हैं जबकि उन चीज़ों की घर में कोई खास जरूरत ही नहीं होती है।

ऐसी फालतू चीजें धीरे-धीरे घर पर भार बन जाती हैं तथा घर में उनकी मौजूदगी सौंदर्य या सजावट को बिगाड़ने लगती हैं।

इसीलिए ऐसी चीजों  पर पैसा खर्च करना छोड़ें तथा घर के लिए वही चीजें खरीदें जिनकी जरूरत हो और जिनके रखने के लिए घर में उचित स्थान या स्पेस मौजूद हो।

४) दीवारों के कलर और उन पर सजी तस्वीरें

घर की सजावट में दीवारों के कलर या रंग भी बहुत महत्व रखते हैं।

दीवारों का कलर हमेशा सुंदर और हल्का होना चाहिए। दीवारों पर ज्यादा तस्वीरें लगाना भी अच्छा नहीं लगता।

सुंदर तथा कम तस्वीरें लगाना ही उनका सौंदर्य बढ़ाता है। घर की सजावट में इस बात का भी पूरा ध्यान रखें कि प्लास्टिक के फूलों के बजाय प्राकृतिक फूलों का इस्तेमाल ज्यादा सुंदर  लगता है।

५) सजावट के लिए शो पीस या पोस्टर

घर की सजावट में शो पीस या पोस्टर का इस्तेमाल भी सामान्य बात है।

मगर ध्यान देने वाली बात यह है कि यदि सजावट के लिए कोई शो पीस या कोई पोस्टर लगाना हो तो उसमें  किसी भी तरह की हिंसा न हो या कोई ऐसा संदेश न हो जिसमें किसी भी प्रकार का दुख, अपराध भाव या युद्ध को दर्शाने वाली बात न लिखी हो।

६) वस्तुओं का उनके सही स्थान पर होना

घर कितना ही सुंदर और शानदार हो अगर उसमें वस्तुएं अपने उचित स्थान पर रखे जाने के बजाय इधर-उधर बिखरी या बेतरतीब रखी गई हों तो उसकी सजावट का खराब होना लाजिमी ही है।

इसीलिए घर में वस्तुओं को उनके उचित स्थान पर रखना अनिवार्य है।

घर में वस्तुएं अपने सही स्थान पर होने से घर आकर्षक लगता है।

७) घर की साफ-सफाई या स्वच्छता

हम घर को कितनी ही मूल्यवान या कीमती चीजों से सजा लें मगर उसकी साफ-सफाई या स्वच्छता की तरफ पूरा ध्यान न दें तो सब बेकार हो जाता है।

इससे घर का सौंदर्य तो खराब होता ही है साथ ही घर में  स्वास्थ्यकर माहौल या वातावरण भी नहीं रह पाता है। इसीलिए घर की स्वच्छता या साफ़-सफाई पर भी पूरा ध्यान दिया जाना चाहिए।

घर के अंदर-बाहर या आसपास के सभी स्थान हमेशा साफ़-स्वच्छ होने चाहिए ताकि घर तो आकर्षक लगे ही साथ में घरवालों की सेहत भी सुंदर बने।

अपने दोस्तों में लेख शेअर करें मनाचेTalks हिन्दी आपके लिए ऐसी कई महत्त्वपूर्ण जानकारियाँ लेके आ रहा है। हमसे जुड़ने के लिए हमारा फेसबुक पेज मनाचेTalks हिन्दी को लाइक करिए और हमसे व्हाट्स ऐप पे जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *