स्मरण शक्ति कैसे बढ़ाएं : पढ़ें 7 अचूक मंत्र

स्मरण शक्ति कैसे बढ़ाएं

हम सभी इस बारे में सोचते हैं कि अपनी स्थिति को कैसे बेहतर बनाया जाए, सुंदर कैसे दिखें, सफल कैसे बनें, लेकिन हम यह नहीं सोचते कि हमारी याददाश्त कैसे बढ़ेगी। हमें लगता है ये तो असंभव काम है। स्मरण शक्ति कैसे बढ़ाएं : पढ़ें 7 अचूक मंत्र पढ़े इस लेख में।

स्मरण शक्ति का अर्थ / स्मरण शक्ति का meaning – “आपके मस्तिष्क की किसी भी विषय वस्तु को याद रख पाने अथवा आपके मस्तिष्क की तीव्रता”

स्मरण शक्ति मतलब, सीधा बोले तो “याददाश्त”

दोस्तों आज हम लेख के माध्यम से आपसे बात करने वाले हैं स्मरण शक्ति के बारे में, इसे कैसे बढ़ाएं।

हम सभी इस बारे में सोचते हैं कि अपनी स्थिति को कैसे बेहतर बनाया जाए, सुंदर कैसे दिखें, सफल कैसे बनें, लेकिन हम यह नहीं सोचते कि हमारी याददाश्त कैसे बढ़ेगी। हमें लगता है ये तो असंभव काम है।

मस्तिष्क आपके दिमाग का महत्वपूर्ण हिस्सा है। किसी भी विषय वस्तु पर आपके सोचने की क्षमता आपकी बुद्धिमत्ता मस्तिष्क पर ही निर्भर करती है।

यदि आपकी याददाश्त बेहतर है और आपके शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का निवास है, तो आपके द्वारा पढ़ी गयी या रोज मरहा की चीजें आपको याद रहती है।

साथ ही किसी भी विषय बिंदू पर आपको तुरंत सटीक उत्तर, आपके मस्तिष्क के माध्यम से मिल जाता है।

जो आपको हर किसी की तुलना में एक अलग पहचान देता है।

ऐसा कहना आश्चर्य नहीं होगा कि ऐसी बुद्धिमत्ता को ही शानदार व्यक्ति अथवा प्रतिभा कहा जाता है।

विषय को लंबे समय तक याद रखना आपके स्मृति क्षमता को दर्शाती है।

एक छात्र के लिए विषय का अध्ययन करना, एक कलाकार को नाटक का हरेक पात्र, डायलॉग याद रखना इनके लिए काफी महत्वपूर्ण होता है, गृहिणी के लिए रोज के कामो के बारे में तेज याददाश्त रखना, इतना ही नहीं तेज याददाश्त सबके लिए प्लस पॉइंट होती हैं।

जब आपके शरीर में किसी चीज की कमी होती है तो आपके शरीर पर इसका प्रभाव दिखने लगता है।

फिर हम विटामिन और खनिज तत्व आदि का सेवन कर अपने सेहत में सुधार कर लेते हैं। पर मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए क्या जरूरी है, ऐसा बहुत कम लोग सोचते हैं। हालांकि,

याददाश्त में कमी या बिगड़ने के कई कारण हैं जिसकी चर्चा हम आपके साथ किसी दूसरे पोस्ट में करेंगे।

आप बोरियत महसूस न करें, इस वजह से अब हम आगे याददाश्त को कैसे बढ़ाया जाए इस पर बात करेंगे।

तो दोस्तों याददाश्त को बेहतर बनाना कोई असंभव कार्य नहीं है ये रही वो सात युक्तियां जो आपकी मदद कर सकती है।

1) संतुलित आहार

क्या आपके दैनिक आहार में साग और पत्तेदार सब्जियां हैं ?

कुछ लोग उन्हीं सब्जियों को खाते हैं जिन्हें वो पसंद करते हैं, वो तब तक नहीं खाते जब तक उनके मनपसंद भोजन न हो।

कुछ लोग दिन भर मांसाहारी भोजन ही खाना पसंद करते हैं। अगर हम एक ही तरह के भोजन को करेंगे तो हमारे शरीर को हरेक पोषक तत्व कैसे मिलेगा!

यदि मस्तिष्क को ठीक से काम करना है तो हरी पत्तेदार सब्जियां, फलों को दैनिक भोजन में जरूर शामिल करना चाहिए।

यह आपके मस्तिष्क की शक्ति और याददाश्त बढ़ाने में मदद करता है।

अगर आपको कोई सब्जी पसंद नहीं है तो आप उन सब्जियों को अलग अलग व्यंजन अथवा सूप बनाकर भोजन के रूप में शामिल करें।

फिर कुछ ऐसे फल भी होते हैं जो हमारे दिमाग को फायदा पहुंचाते हैं जो हमें खाने चाहिए।

स्ट्राबेरी एक प्रचुर विटामिन युक्त फल है।

आपको सप्ताह में कम से कम दो स्टॉबेरी खाना चाहिए। ब्रेन डॉक्टरों का कहना है की ऐसा करने से मेमरी लॉस का खतरा कम हो जाता है।

इसे स्मरण शक्ति बढ़ाने के घरेलू उपाय के तौर पर देखा जा सकता है।

ओमेगा -३ fatty एसिड का सेवन करना मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए लाभप्रद है।

मांसाहारी और शाकाहारी दोनों पदार्थों से हमें ओमेगा-3 फैटी एसिड मिलता है। यह अखरोट जैसे सूखे मेवों, अलसी, स्ट्रॉबेरी, सूरजमुखी, स्प्राउट्स, सरसों के बीज, सोयाबीन, गोभी, हरी बीन्स, ब्रोकली, शलजम, हरी पत्तेदार सब्जियों और रसभरी जैसे फलों में काफी मात्रा में पाया जाता हैै।

डॉक्टर की सलाह पर ओमेगा-3 फैटी एसिड सप्लीमेंट का उपयोग आप कर सकते हैं।

2) व्यायाम करें

नियमित व्यायाम सभी बीमारियों को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है।

व्यायाम पूरे शरीर को मजबूत बनाता है। पूरे शरीर को ऑक्सीजन की आपूर्ति होती है। साथ ही व्यायाम रक्त परिसंचरण में सुधार करता है।

मांसपेशियों को मजबूत बनाता है। तथा दिमाग भी बेहतर तरीके से कार्य करता है।

और स्मरण शक्ति अपने आप बढ़ने लगती है। ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय ने यह पाया है कि एरोबिक्स व्यायाम करने से स्मृति में सुधार होता है।

स्मरण शक्ति बढ़ाने के योग

स्मरण शक्ति को योग के माध्यम से भी बढ़ाया जा सकता है कुछ आसान नीचे दिए गए हैं जिन्हें कर आपकी स्मरण शक्ति बढ़ती है।

सुखासन..
पश्चिमोत्तानासन..
सर्वांगासन..
पादहस्तासन..
पद्मासन..

3) बोर्ड गेम्स जो मस्तिष्क को उत्तेजित करे

हर दिन थोड़े देर के लिए ब्रेन बूस्टिंग गेम खेलें जैसे – शतरंज, लूडो आदि। इससे मस्तिष्क को विचारों की खुराक मिलती है और आपकी याददाश्त में भी सुधार होता है।

4) ब्रेन ट्रेनिंग ऐप्स

आज के इंटरनेट के युग में, मस्तिष्क प्रशिक्षण ऐप का उपयोग करके आसानी से अपने मस्तिष्क की क्षमता को बढ़ा सकते हैं।

ये ऐप्स इंटरनेट पर उपलब्ध हैं।

5) मानसिक स्वास्थ्य के लिए ध्यान करें

हमारे दिमाग में दिन भर कई तरह के विचार आते हैं। नकारात्मक विचार हमारे तनाव को बढ़ाते हैं।

इस तनाव को कम किया जाना चाहिए। अगर इसे कम नहीं किया गया तो ये तनाव बढ़ जाता है और हमारा मानसिक स्वास्थ्य बिगड़ जाता है।

हमारा दिमाग थक जाता है और याददाश्त कम हो जाती है। इसलिए मानसिक स्वास्थ्य में हर सुबह ध्यान करना तनाव को कम करता है।

इससे सकारात्मक विचार बनते हैं। मस्तिष्क से तनाव कम होता है और याददाश्त बढ़ती है।

6) छठी टिप हर रात 8 घंटे की नींद लेने के लिए है

कई लोग जो सबसे बड़ी गलती करते हैं, वह है रात में कम नींद लेना।

टी.वी. देखना, गपशप करना, हर दिन “आधी” रातें बर्बाद करना। इससे नींद कम आती है। फिर वे पूरा दिन जम्हाई लेने में बिताते हैं।

लेकिन यह केवल शरीर को प्रभावित नहीं करता है, यह आपके मानसिक स्वास्थ्य और समस्याओं को हल करने की आपकी क्षमता को भी प्रभावित करता है।

निर्णय लेने की क्षमता कम हो जाती है। ब्रेन फंक्शन कम हो जाता है, और आपकी याददाश्त प्रभावित होती है।

इसलिए आपको हर रात जल्दी बिस्तर पर जाना चाहिए और 8 घंटे की नींद लेनी ही चाहिए। उसके लिए एक विशिष्ट शयनकक्ष होना चाहिए।

एक अच्छी और सुकून भरी नींद आपके दिमाग के लिए व्यायाम की तरह होता है।

नींद में सबसे अधिक आपका मस्तिष्क सक्रिय होता है।

7) सातवाँ सिरा है, दिमागी प्रशिक्षण

यदि आप कुछ नया नहीं करते हैं, नया सोचते नही हैं तो आपका दिमाग सुस्त हो जाएगा। इसलिए हमेशा नया सोचना, सीखना आपके दिमाग को तंदुरुस्त रखता हैं।

एक नई भाषा सीखना या एक संगीत वाद्ययंत्र बजाना, या एक शौक ढूंढना जो आपको पसंद है, और इसमें अपने मन को उलझाने का मतलब है कि आपके दिमाग को कुछ नया सीखने के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी, और आपकी याददाश्त अपने आप बढ़ जाएगी।

दोस्तों, कमेंट्स में बताए, लेख कैसा लगा…. आप हमसे और किन विषयो में सुनना चाहेंगे।और हाँ, अपने दोस्तों में लेख शेअर जरूर करें।

धन्यवाद।

अपने दोस्तों में लेख शेअर करें मनाचेTalks हिन्दी आपके लिए ऐसी कई महत्त्वपूर्ण जानकारियाँ लेके आ रहा है। हमसे जुड़ने के लिए हमारा फेसबुक पेज मनाचेTalks हिन्दी को लाइक करिए और हमसे व्हाट्स ऐप पे जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *