कलात्मक हंसी से मिलेगी सुंदरता और सेहत दोनों जानिए कैसे

कलात्मक हंसी से मिलेगी सुंदरता और सेहत दोनों जानिए कैसे

हंसी मनुष्य के लिए ईश्वर का दिया अमूल्य उपहार है क्योंकि हंसी चेहरे की सुंदरता को ही नहीं निखारती बल्कि शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य या सेहत को भी चुस्त-दुरुस्त बनाती है।

वहीं अगर हंसी कलात्मक हो तो सुंदरता और पर्सनैलिटी अर्थात् व्यक्तित्व को चार चांद लगाने वाली साबित हो सकती है।

क्या है कलात्मक हंसी?

कलात्मक हंसी से हमारा मतलब चेहरे पर सजने वाली उस हंसी से है, जिसमें प्राकृतिक आकर्षण होता है और जो सामने वाले के दिल में घर कर जाती है व उसमें प्रसन्नता के फूल खिला देती है।

सामनेवाले के दिल पर ऐसी छाप छोड़ती है, कि वह वैसी हंसी के दर्शन पाने के लिए खुद को बेचैन महसूस करने लगता है।

कैसे बनाएं अपनी हंसी को कलात्मक?

हमें अपनी हंसी को कलात्मक रूप देने के लिए खुद को थोड़ा बदलना पड़ेगा और सजगता से कुछ दिन अभ्यास करना पड़ेगा।

अगर हम यह सब करने में सफ़ल हुए तो अवश्य ही कलात्मक हंसी हंसने योग्य बन जाएंगे।

आइए जानें कैसे।

१) अपनी हंसी को कलात्मक बनाने के लिए सबसे पहले आईने के सामने हंसकर देखिए और जानिए कि आपके चेहरे पर किस तरह की हंसी सबसे ज्यादा फिट बैठती है।

हल्की, मध्यम या फिर उससे थोड़ी कम या ज्यादा।

हंसी का जो रूप आपके चेहरे पर सबसे ज्यादा जंचे उसे ही अपनाने का अभ्यास कीजिए।

२) आपमें हंसी से संबंधित जो भी अवगुण नज़र आते हों उन्हें दूर करने की कोशिश कीजिए।

जैसे कि बिना बात दांत दिखाना अर्थात् अनावश्यक हंसी हंसना छोड़िए।

३) ईर्ष्या या जलन का शिकार होकर किसी के ऊपर व्यंग्यात्मक रूप से कभी मत हंसिए।

क्योंकि ऐसी हंसी आपके चेहरे की रौनक तो बिगाड़ती ही है, साथ ही सामने वाले के दिल में भी चुभती है।

४) अगर कहीं दो या अधिक लोगों के बीच कोई गंभीर वार्तालाप चल रही हो तो कभी भी उनके बीच बिना बात की हंसी न हंसें।

अगर इस तरह हंसेंगे तो आपकी हंसी किसी के आकर्षण का कारण बनने के बजाय किसी के कोप की वजह बनेगी।

इसके अलावा यह आपकी अशिष्टता की ही सूचक होगी।

५) जब भी किसी से मिलें हंस कर मिलें मगर यह ध्यान रखें कि हंसी नैच्युरल अर्थात् स्वाभाविक और हल्की हो।

इसके साथ ही ज्यादा लंबी, बनावटी या उबाऊ हंसी भी न हो।

हंसी में कलात्मक गुण तभी पैदा होता है जब वह स्वाभाविक और नियंत्रित हो।

अर्थात् उसे जबरदस्ती चेहरे की शोभा बनाने की कोशिश न की गयी हो।

अगर आप ऊपर दी गई बातों को ध्यान में रखते हुए, अपनी हंसी को चेहरे की विवशता न मान कर उसे चेहरे का आभूषण बनाने और किसी आभूषण की ही तरह उचित ढंग से चेहरे पर धारण करने में निपुणता हासिल करेंगे और उसकी आदत डाल लेंगे तो निश्चय ही आपकी हंसी कलात्मक होगी।

साथ ही आपकी हंसी में पैदा होगी, वह कशिश कि सामने वाला आपके प्रति आकर्षित हुए बिना न रह सकेगा और आपकी निकटता में रहने में उसे सुख की अनुभूति होगी।

हंसी आपकी सेहत के लिए टाॅनिक कैसे?

आपकी हंसी न केवल आपके चेहरे का आभूषण बनकर आपकी सुंदरता को बढ़ाती है, बल्कि आपको सेहतमंद बनाने का काम भी करती है।

आप यह भी कह सकते हैं कि हंसी आपकी सेहत के लिए टाॅनिक का काम भी करती है। आइए जानें कैसे…

१) जब हम हंसते-मुस्कराते हैं तो हमारे रक्त में कई महत्वपूर्ण रसायनों का स्राव होता है इनमें डोपामाइन, एंडोर्फिन और सेरोटोनिन मुख्य रूप से उल्लेखनीय हैं।

ये रसायन हमारे शारीरिक स्वास्थ्य या सेहत के लिए बहुत अधिक उपयोगी हैं।

डोपामाइन हमारे दिमाग को शारीरिक गतिविधियों को नियंत्रित करने की ताकत देता है।

फलतः दिमाग शरीर को ठीक से संचालित व नियंत्रित कर पाने में समर्थ हो पाता है।

इसके साथ ही यह कई अन्य शारीरिक समस्याओं जैसे कि मांसपेशियों का कड़ापन, कंपकंपी, बोलने या चलने से संबंधित दिक्कतें आदि से भी राहत देता है।

२) एंडोर्फिन एक ऐसा हार्मोन है जो हमें दृढ़ निश्चयी बनाता है और साथ शरीर को और भी कई तरह के जबरदस्त फायदे पहुंचाता है।

हमें खुश या प्रसन्न बनाए रखने का काम करता है। इसकी इसी खूबी को देखते हुए हमारे चिकित्सा विज्ञान ने इसे ‘खुश बनाने वाले’ रसायन की संज्ञा दी है।

३) जब हम नैच्युरल हंसी हंसते हैं तो हमारे भीतर जमा तनाव का मैल धुल जाता है और मन प्रसन्न होता है। इस तरह हम खुद को अंदर से हल्का या तनाव रहित महसूस करते हैं और हमारा काम में मन लगता है।

मन में तनाव न होने की अवस्था में हम खुल कर सोच-विचार कर पाते हैं। हमारी सोच नकारात्मकता से छुटकारा पाती है तथा हमें सकारात्मक सोचने का अवसर मिलता है। अतः हमारी हंसी-मुस्कराहट हमें सकारात्मक भी बनाती है।

अपने दोस्तों में लेख शेअर करें मनाचेTalks हिन्दी आपके लिए ऐसी कई महत्त्वपूर्ण जानकारियाँ लेके आ रहा है। हमसे जुड़ने के लिए हमारा फेसबुक पेज मनाचेTalks हिन्दी को लाइक करिए और हमसे व्हाट्स ऐप पे जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक करे

1 thought on “कलात्मक हंसी से मिलेगी सुंदरता और सेहत दोनों जानिए कैसे”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *