बादाम से होने वाले फायदे.. Almonds Benefits For Health

बादाम खाने के फायदे health benefits of almonds hindi

बादाम दुनिया में सबसे लोकप्रिय पौष्टिक खाद्य पदार्थों में से एक है।

बादाम अत्यधिक पौष्टिक होते हैं और इसमें कई उपयोगी पोषक तत्व, एंटीऑक्सिडेंट, विटामिन और खनिज होते हैं।

बादाम में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है।

वे एंटीऑक्सिडेंट के कारण आपकी कोशिकाओं को ऑक्सीडेटिव क्षति से बचाते हैं।

इससे युवाओं के और वयस्कों के चेहरे पर समय से पहले झुर्रियां दिखाई नहीं देती हैं।

इसके उपयोगी एंटीऑक्सिडेंट कैंसर के खतरे को कम करने में भी मदद करते हैं।

विटामिन ‘ई’ का दुनिया सबसे अच्छे स्रोतों में से एक बादाम है।

विटामिन ‘ई’ आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा है।

विटामिन ‘ई’ हृदय रोग, कैंसर और अल्जाइमर से बचाता है।

बादाम खाने के ये हैं फायदे:

१) मधुमेह में उपयुक्त है

बादाम में कार्बोहाइड्रेट कम और प्रोटीन, फाइबर, विटामिन और मिनरल्स ज्यादा होते हैं।

इसलिए, मधुमेह वाले लोगों को बादाम खाने की सलाह दी जाती है।

इसके अलावा, बादाम में बड़ी मात्रा में मैग्नीशियम होता है।

शरीर को 300 विभिन्न गतिविधियों के लिए मैग्नीशियम की आवश्यकता होती है।

मैग्नीशियम ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद करता है।

इसलिए, डायबिटीज के मरीजों को अपने आहार में बादाम को शामिल करने की आवश्यकता होती है।

इसी तरह, जिन्हें डायबिटीज नहीं है उन्हें भी आहार में बादाम को शामिल करने से मधुमेह को रोकने में मदद मिलती है।

२) ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करता है।

उच्च रक्तचाप से दिल का दौरा, स्ट्रोक और किडनी फेल होने का खतरा बढ़ जाता है।

इसलिए, ब्लडप्रेशर को नियंत्रण में रखना बहुत ही आवश्यक है।

बादाम में मौजूद मैग्नीशियम रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी मदद करता है।

३) खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।

ब्लड में LDL लिपोप्रोटीन होता है। उसे खराब कोलेस्ट्रॉल भी कहा जाता है।

रक्त में खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ज्यादा होने से दिल का दौरा, दिल की बीमारी, स्ट्रोक और हाय ब्लडप्रेशर का खतरा बढ़ जाता है।

इसके लिए रक्त में एलडीएल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम करने की आवश्यकता होती है।

बादाम का नियमित सेवन रक्त में खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (HDL कोलेस्ट्रॉल) के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है।

४) हार्ट अटैक के खतरे को कम करता है।

बादाम में ओमेगा -3 फैटी एसिड, विटामिन-ई, पोटेशियम और मैग्नीशियम में मात्रा अधिक होती हैं, जो हृदय स्वास्थ्य के लिए अच्छे हैं।

बादाम के नियमित सेवन से रक्तचाप और वजन नियंत्रित होता है।

इसके अलावा रक्त में खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और हृदय की रक्त वाहिकाओं में रक्त के प्रवाह को बेहतर बनाने में फायदेमंद है।

इस तरह से बादाम खाने से हार्ट अटैक के खतरे को कम करने में मदद मिलती है।

५) वजन को नियंत्रण में रखता है।

बादाम में कार्बोहाइड्रेट कम और प्रोटीन और फाइबर अधिक मात्रा में होते हैं।

हालांकि बादाम हेल्दी फैट और कैलोरी में समृद्ध है।

कई रिसर्च से पता चला है कि बादाम वजन घटाने के लिए बहुत उपयोगी हैं।

बादाम खाने से भूख कम होती है और वजन कम करने में मदद मिलती है।

६) मस्तिष्क के लिए उपयोगी

बादाम के बारे में सब इस फायदे को जानते हैं कि, दिमाग की सेहत के लिए बादाम का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

बादाम में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, प्रोटीन, विटामिन-E आपके मस्तिष्क में ऑक्सीडेटिव डैमेज और सूजन को कम करने में मदद करते हैं।

बादाम खाने से दिमाग तेज होता है और याददाश्त और एकाग्रता बढ़ाने में मदद मिलती है।

बच्चों की याददाश्त और एकाग्रता बढ़ाने के लिए 2 से 3 बादाम रात भर भिगो कर सुबह दूध के साथ दें।

इससे बच्चों की बुद्धि और शारीरिक क्षमताओं को बढ़ाने में मदद मिलती है।

७) हड्डियों और दांतों को मजबूत करने के लिए।

बादाम में कैल्शियम और फास्फोरस भरपूर मात्रा में होते हैं।

यह आपकी हड्डियों को और आपके दांतों को मजबूत रखने में मदद करता है।

८) गर्भावस्था में उपयोगी

बादाम में फोलिक (Folate) या फोलेट एसिड भी भरपूर होते हैं।

फोलिक एसिड गर्भावस्था में बहुत ही महत्वपूर्ण होते है।

इसके अलावा, गर्भावस्था के दौरान रोजाना बादाम खाना गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत अच्छा होता है।

क्योंकि यह गर्भावस्था के दौरान ब्लड प्रेशर और ब्लड शूगर को नियंत्रित करने में मदद करता है।

९) हीमोग्लोबिन बढ़ाता है

बादाम कैल्शियम, आयरन जैसे मिनरल्स और विटामिन से भरपूर होते हैं।

जो रक्त में हीमोग्लोबिन के स्तर को बढ़ाते हैं और एनीमिया जैसी बीमारियों को कम करने में मदद करते हैं।

कैसे खाएं बादाम ..?

पानी में भिगाएं हुए बादाम को छिलकर खाएं।

क्योंकि बादाम के छिलके में टैनिन ( tannin ) नामक एक घटक होता है।

टैनिन बादाम में पाए जाने वाले पोषक तत्वों को अवशोषित करने की शरीर की क्षमता में समस्या निर्माण हो सकती हैं।

बादाम को पानी में भिगोकर रखें और फिर उन्हें छीलकर खाएं।

बादाम को रातभर पानी में भिगोकर रखने से बादाम आसानी से खिल जाता है और आसानी से छिला जा सकता है।

साथ ही भीगे हुए बादाम आसानी से पच जाते हैं।

भीगे हुए बादाम खाने के फायदे हैं:

बादाम को रातभर पानी में भिगोकर खाने से बादाम के सभी फायदे शरीर को मिलते हैं।

भीगे हुए बादाम आसानी से पच जाते हैं।

भीगे हुए बादाम में एंटीऑक्सिडेंट, प्रोटीन, फाइबर, विटामिन-ई, ओमेगा -3 फैटी एसिड और मैग्नीशियम जैसे कई उपयोगी पोषक तत्व होते हैं।

भीगे हुए बादाम हृदय रोग, कैंसर, मधुमेह, उच्च रक्तचाप के जोखिम को कम करने में मदद करते हैं।

यह रक्त कोलेस्ट्रॉल, रक्त शर्करा, वजन नियंत्रण को नियंत्रित करने और बुद्धि को तेज करने में मदद करता है।

इसलिए बादाम को पानी में भिगोकर खाएं।

रोजाना कितने बादाम खाने चाहिए ..?

हालांकि बादाम में बहुत सारे पोषक तत्व होते हैं, अगर वे बड़ी मात्रा में खाया जाए तो वे शरीर के लिए हानिकारक हो सकते हैं।

पूर्ण विकसित व्यक्ति के लिए प्रति दिन 1 ounce (23 बादाम) क्षमता तय की है।

भारतीयों के स्वास्थ्य और गर्म मौसम को ध्यान में रखते हुए, दिन में 4 से 10 बादाम खाने की सलाह दी जाती है।

बादाम खाने के नुकसान:

बादाम में मैंगनीज की अधिक मात्रा होने के कारण, अधिक बादाम खाने से मैंगनीज की रिएक्शन उसके साथी दवाएँ खाने पर हो सकती है।

बहुत अधिक बादाम खाने से अपच, दस्त, गैस, कब्ज, सिरदर्द, पित्त की समस्या, मुंह के छाले और आंखों के नीचे काले घेरे भी हो सकते हैं।

अपने दोस्तों में लेख शेअर करें मनाचेTalks हिन्दी आपके लिए ऐसी कई महत्त्वपूर्ण जानकारियाँ लेके आ रहा है। हमसे जुड़ने के लिए हमारा फेसबुक पेज मनाचेTalks हिन्दी को लाइक करिए और हमसे व्हाट्स ऐप पे जुड़े रहने के लिए यहाँ क्लिक करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *